Shayari

गुलाब का फूल ही दूंगा, मगर इश्क़ सच्चा होगा,
ताजमहल न खड़ा कर पाऊं,मगर साथ पक्का रहूंगा,
भले ही तेरी मुसीबतों से लड़ न पाऊं,
मगर हमेशा साथ रहूंगा ये वादा पक्का होगा।

Anjali Yadav
By 
Loved it? Explore the Social section to get in touch with all the writers and readers!
Trivia!